Breaking News

यस बैंक को मिले ये 8 निवेशक, 11750 करोड़ निवेश

Spread the love

नई दिल्ली
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के बाद अब प्राइवेट सेक्टर के दूसरे बैंक भी यस बैंक में निवेश के लिए सामने आए हैं। ICICI बैंक ने शुक्रवार को कहा कि वह यस बैंक में 1,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगा। बैंक ने शेयर बाजारों को दी सूचना में कहा, 'इस निवेश से आईसीआईसीआई बैंक की यस बैंक में हिस्सेदारी पांच प्रतिशत से अधिक हो जाएगी।' ताजा जानकारी के मुताबिक एचडीएफसी बैंक ने यस बैंक में 6 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने का ऐलान किया है। इसके लिए वह 1000 करोड़ रुपये निवेश करेगा।

एसबीआई करेगा 7250 करोड़ निवेश
इन दो बैंकों के अलावा एक्सिस बैंक, कोटक महिन्द्रा बैंक, राधाकिशन दमानी, राकेश झुनझुनवाला और अजीम प्रेमजी भी 500-500 करोड़ निवेश कर 3-3 फीसदी हिस्सेदारी खरीदेंगे। एसबीआई ने पहले ऐलान किया था कि वह यह बैंक का 725 करोड़ शेयर 10 रुपये के भाव से खरीदेगा। वह इस तरह यस बैंक में 7250 करोड़ रुपये निवेश करेगा।

लिक्विडिटी के लिए 30 हजार करोड़
स्टेट बैंक ने यस बैंक के एडमिनिस्ट्रेटर प्रशांत कुमार को बैंक का नया सीईओ नियुक्त किया है। एसबीआई ने रिजर्व बैंक को सौंपे अपने प्लान में कहा कि बैंक में लिक्विडिटी बनाए रखने के लिए पब्लिक सेक्टर के बैंक 30 हजार करोड़ रुपये जमा करेंगे।

कैपिटल अब 6200 करोड़
आज दोपहर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी। इन कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा कि यस बैंक को उबारने के लिए तेजी से काम चल रहा है। पहले इसका कैपिटल 1100 करोड़ आंकी गई थी, जिसे बढ़ाकर अब 6200 करोड़ कर दिया गया है।

LIC भी कर सकती है निवेश
स्टेट बैंक ने पहले कहा था कि वह 49 पर्सेंट स्टेक 2450 करोड़ में खरीदेगा। अब वह 7250 करोड़ निवेश करने जा रहा है। मीडिया में ऐसी भी खबर है कि लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन भी यस बैंक में निवेश कर सकती है।

अधिकतम 50 हजार निकाले जा सकते हैं
बता दें रिजर्व बैंक ने 5 मार्च को यस बैंक पर मोराटोरियम लगाया था। जमाकर्ता एक महीने में अधिकतम 50 हजार रुपये निकाल सकते हैं। यह रोक फिलहाल 3 अप्रैल तक लगाई गई है। यस बैंक का ऑपरेशन 2004 में शुरू किया गया था।