विदेश

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ओलंपिक गेम्स एक साल के लिए स्थगित करने का रखेंगे प्रस्ताव

Spread the love

 टोक्यो 
अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) पर टोक्यो ओलंपिक खेलों को स्थगित करने का दबाव बढ़ गया है और अब अमेरिका, ब्रिटेन और न्यूजीलैंड भी उन देशों में शामिल हो गए हैं जो कि इन खेलों को टालने की मांग कर रहे हैं। कोविड-19 महामारी के कारण ओलंपिक खेलों पर लटकी अनिश्चितता की तलवार के बीच जापान के प्रधानमंत्री शिंजो ने आईओसी प्रमुख थॉमस बाक से टेलीफोन पर बातचीत करेंगे। मिली जानकारी के मुताबिक पीएम शिंजो आबे इस बातचीत में ओलंपिक को एक साल के लिए स्थगित करने का प्रस्ताव रख सकते हैं।

जापान के सरकारी टेलीविजन एनएचके ने मंगलवार को यह जानकारी दी।आबे ने कहा कि कोरोना वायरस महमारी के कारण अगर तोक्यो 2020 ओलंपिक में सभी देश और खिलाड़ी भाग नहीं ले पाते हैं तो उनको स्थगित करना अपरिहार्य होगा।

इस बातचीत में टोक्यो के गर्वनर यूरिको कोइके, आयोजन समिति के प्रमुख योशिरो मोरी, ओलंपिक मंत्री सेइको हाशिमोतो भी शामिल होंगे। इससे पहले आईओसी ने टोक्यो ओलंपिक स्थगित करने पर फैसला लेने के लिए चार सप्ताह का समय मांगा था, जिसकी खिलाड़ियों ने निंदा की है।

खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा, खिलाड़ियों के लिए शुरू होगी डिजिटल क्लास
कनाडा और ऑस्ट्रेलिया पहले ही कोविड 19 के कारण ओलंपिक से पीछे हट चुके हैं। अब अमेरिकी ओलंपिक समिति ने कहा है कि खेलों को स्थगित करना ही सर्वश्रेष्ठ विकल्प है। ब्रिटेन ने भी कहा है कि वह कनाडा और ऑस्ट्रेलिया का अनुसरण करने के लिए तैयार है जबकि जर्मनी और न्यूजीलैंड के ओलंपिक संघ और खिलाड़ियों ने भी खेलों को टालने की मांग की है।

विश्व एथलेटिक्स समेत दुनिया भर के खेल महासंघों ने 24 जुलाई से नौ अगस्त तक होने वाले इन खेलों को आगे बढाने की मांग की है। आईओसी के एक वरिष्ठ अधिकारी डिक पाउंड ने कहा, ''मुझे लगता है कि आईओसी ओलंपिक को रद्द नहीं करना चाहती और 24 जुलाई से खेल हो नहीं सकते। ऐसे में स्थगित ही किये जा सकते हैं।''

ओलंपिक मशाल रिले : ना मशाल, ना मशाल वाहक और ना ही दर्शक
अमेरिकी ओलंपिक समिति ने 1780 अमेरिकी खिलाड़ियों के बीच कराये गए सर्वे के बाद स्थगन का समर्थन किया है। उसके 68 प्रतिशत खिलाड़ी चाहते हैं कि खेल बाद में कराये जाएं।

कोरोना वायरस संक्रमण के कारण दुनिया भर में खेल गतिविधियां ठप्प हैं। ओलंपिक क्वालीफायर भी नहीं हो सके हैं। अमेरिकी ओलंपिक और पैरालम्पिक समिति ने कहा, ''खिलाड़ियों के जवाब से सबसे अहम बात सामने आई है कि मौजूदा हालात सुधरने पर भी अभ्यास के माहौल, डोप नियंत्रण, क्वॉलिफिकेशन जैसी प्रक्रियाओं में बाधा आएगी।''

अमेरिकी जिम्नास्टिस , अमेरिकी तैराकी और ट्रैक एंड फील्ड पहले ही खेलों को स्थगित करने की मांग कर चुके हैं। इस बीच ब्रिटिश ओलंपिक संघ के अध्यक्ष ह्यूज राबर्टसन ने स्काय स्पोटर्स से कहा कि अगर संक्रमण जारी रहा तो टीम नहीं भेजी जा सकती।

राबर्टसन ने कहा, ''मुझे लगता है यह काफी सरल फैसला है। अगर वायरस के संक्रमण का प्रसार सरकार की भविष्यवाणी के अनुसार जारी रहा तो मुझे नहीं लगता कि कोई ऐसा रास्ता होगा जिससे हम टीम भेज सके।'

आईओसी सदस्य पाउंड का ओलंपिक पर बयान आधिकारिक नहीं: आईओए
न्यूजीलैंड एथलीट आयोग ने देश के खिलाड़ियों की प्रतिक्रिया जानने के लिए सर्वे किया था और न्यूजीलैंड ओलंपिक समिति के सीईओ कारेन स्मिथ ने टोक्यो ओलंपिक को टालने का समर्थन करने के उनके फैसले का स्वागत किया। स्मिथ ने बयान में कहा ''हम उनकी राय का समर्थन करते हैं और उनके विचारों से आईओसी को अवगत कराएंगे। हम जल्द से जल्द फैसला करने की मांग को दोहराते हैं।

इस बीच खिलाड़ियों की बात रखने वाले एक संगठन ग्लोबल एथलीट ने चार सप्ताह की मियाद के लिए आईओसी की आलोचना की है। इसने एक बयान में कहा, ''यह गैर जिम्मेदाराना, अस्वीकार्य और खिलाड़ियों के हितों की अनदेखी करने वाला है।'' ब्रिटिश साइकिलिस्ट कालम स्किनर ने बाक पर निजी हितों को तरजीह देने का आरोप लगाया।