देश

सीनियर सिटीजन को रेल टिकट पर अभी छूट नहीं

Spread the love

नई दिल्ली
सीनियर सिटीजन को रेल टिकट पर मिलने वाली छूट के लिए अभी और इंतजार करना होगा। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने संसद को बताया है कि फिलहाल जैसी स्थिति चल रही है, वही आगे भी जारी रहेगी। दरअसल, साल 2020 में कोरोना की वजह से भारतीय रेलवे ने ट्रेन में किराए और सफर को लेकर कई तरह के नियम बनाए थे। इनमें से ही एक नियम सीनियर सिटीजन से जुड़ा था। इस नियम के तहत सीनियर सिटीजन को रेल टिकट पर दिए जाने वाले रियायत को हटा दिया गया। अब सीनियर सिटीजन को भी रेल टिकट के लिए उतना ही किराया देना होता है, जितना एक युवा या अधेड़ को खर्च करने पड़ते हैं।

संसद में पूछे गए एक सवाल के जवाब में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि टिकट किराये पर दी जाने वाली छूट या रियायतों को बहाल करने का फिलहाल कोई प्रस्ताव नहीं है। रेल मंत्री के मुताबिक कोविड की वजह से सभी श्रेणियों के यात्रियों के लिए दी जाने वाली रियायत वापस ले ली गई है। अभी इसे वापस बहाल करने पर कोई विचार नहीं किया गया है। आपको बता दें कि पहले सीनियर सिटीजन को रेल टिकट पर 50 फीसदी तक की रियायत मिलती थी। रेलवे 60 से अधिक उम्र के पुरुष और 58 वर्ष से अधिक उम्र की महिलाओं को ये छूट देता था। पुरुषों को बेस फेयर में 40 फीसदी और महिलाओं को बेस फेयर में 50 फीसदी तक की छूट दी जाती थी। हालांकि, कोरोना के बाद से ही ये सभी अब सामान्य किराया देकर सफर कर रहे हैं।