देश

PFI की ‘हिट लिस्ट’ में केरल के 5 आरएसएस नेताओं के नाम, दी गई Y कैटेगरी की सुरक्षा

Spread the love

नई दिल्ली
कट्टरपंथी संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) की हिट लिस्ट में केरल के पांच आरएसएस नेताओं का नाम हैं। इस बात के इनपुट केंद्रीय खुफिया एजेंसियों को मिले है। खुफिया एजेंसियों को मिले इस इनपुट के आधार पर संभावित खतरे को भांपते हुए केंद्र सरकार ने केरल के पांच आरएसएस नेताओं की सुरक्षा और बढ़ा दी है। बता दें, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के 5 नेताओं को Y कैटेगरी की सुरक्षा दी गई है।
 
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एनआईए ने 22 सितंबर को पीएफआई के सदस्य मोहम्मद बशीर के ठिकानों पर रेड मारी थी। इस दौरान एनआईए को एक लिस्ट मिली थी, जिसमें केरल के पांच आरएसएस नेताओं को जान से मारने का उल्लेख था। जिसके बाद एनआईए ने मामले की जानकारी गृह मंत्रालय के साथ साझा की। जिसके बाद गृह मंत्रालय ने एनआईए और इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) की रिपोर्ट के आधार पर केरल में आरएसएस के पांच नेताओं को "वाई" श्रेणी की सुरक्षा देने का फैसला किया है।

आरएसएस नेताओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए अर्धसैनिक बलों के कमांडो तैनात किए जाएंगे। सूत्रों के अनुसार, गृह मंत्रालय की Y कैटेगरी की सुरक्षा में कुल 8 सुरक्षाकर्मी शामिल होते हैं। इसमें जिस वीआईपी को सुरक्षा दी जाती है उसमें 5 आर्म्ड स्टैटिक गार्ड उसके घर पर लगाए जाते हैं. साथ ही तीन शिफ्ट में तीन पीएसओ सुरक्षा प्रदान करते हैं।
 
केंद्र ने लगाया PFI पर बैन
बीते 28 सितंबर को केंद्र सरकार ने पीएफआई और उसके 08 सहयोगी संगठनों को पांच साल के लिए बैन कर दिया। यह बैन सुरक्षा और आतंकी संबंधों के खतरे का हवाला देते लगाया गया है। बता दें कि केंद्रीय सुरक्षा जांच एजेंसियों ने पीएफआई के 22 ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की थी और 350 लोगों को गिरफ्तार किया था। जांच एजेंसियों के छापे के दौरान पीएफआई के खिलाफ पर्याप्त सबूत मिले थे। इसके आधार पर गृह मंत्रालय ने पीएफआई पर बैन लगाने का फैसला किया।