मध्य प्रदेश

रतलाम के शासकीय स्कूल बच्चों से साफ करवाई टॉयलेट, शिक्षा विभाग ने दिए जांच के आदेश

Spread the love

रतलाम
प्रदेश के रतलाम में शासकीय स्कूल का एक वीडियो तेज़ी से वायरल हो रहा है। इसमें स्कूल के दो बच्चे टॉयलेट साफ़ करते हुए हाथ में झाड़ू और पानी की बाल्टी लिए दिख रहे है। वीडियो किसी ग्रामीण व्यक्ति ने बनाया है दिख रहे बच्चों का कहना है कि स्कूल की टीचर ने ही उनसे टॉयलेट की सफाई करने को कहा था। कुछ दिन के अंतराल में दो-तीन बच्चों से ही टॉयलेट साफ करवाया जाता है। इस टॉयलेट का यूज केवल टीचर ही करती हैं।

रतलाम के सरकारी स्कूल में बच्चों से टॉयलेट साफ कराने का एक मामला सामने आया है। जिसका वीडियो भी जमकर वायरल हो रहा है। वीडियो के संज्ञान में आते ही शिक्षा अधिकारी ने स्कूल मैनेजमेंट से जवाब-तलब किया है।मामला रतलाम जनपद के पलसोड़ी गांव के शासकीय स्कूल का है। टॉयलेट साफ करते हुए बच्चों का वीडियो सामने आने के बाद परिजन और स्थानीय लोगों ने आपत्ति जताई है। सरकारी स्कूलों में प्यून की व्यवस्थाएं लगभग खत्म हो चुकी हैं इस प्रकार के वीडियो सोसल मिडिया पर वायरल हो रहे है,ऐसे में कई बार स्कूली बच्चे ही स्कूलों में साफ-सफाई और दूसरे काम करते हुए नजर आ जाते हैं।

ग्रामीण ने बनाया वीडियो
शासकीय स्कूल का वायरल वीडियो किसी ग्रमीण ने बना कर वायरल किया है वायरल वीडियो में 2 बच्चे पढ़ाई छोड़कर स्कूल का टॉयलेट साफ करते दिखाई दे रहे हैं। ग्रामीण स्कूल टीचर से पूछ भी रहा है कि बच्चे बाथरूम साफ कर रहे थे इतने में टीचर चौंककर बच्चों के टॉयलेट साफ करने की बात से इनकार कर देती हैं। इस पर ग्रामीण शख्स कह रहा है कि मेरे पास वीडियो है। दोनों बच्चे 5 वीं के स्टूडेंट हैं।

जिला शिक्षा अधिकारी केसी शर्मा का कहना है कि इस मामले में जांच कर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। अगर ऐसा हुआ है तो निश्चित रूप से गलत है। बच्चों के साथ ऐसा व्यवहार ठीक नहीं है। सख्त कार्रवाई होगी। अगर टीचर कह रहे हैं कि वे बच्चों को सिखा रहे थे, तो बच्चों को सिखाने के लिए बहुत से काम हैं। ये पूरी तरह से गलत है, हम एक्शन लेंगे।