मध्य प्रदेश

पीएमएमवीवाय में अब तक 33.83 लाख हितग्राहियों का पंजीयन

Spread the love

1501 करोड़ रूपये से अधिक की मातृत्व सहायता राशि वितरित

भोपाल

प्रधानमंत्री मातृ-वंदना योजना में प्रारंभ से अब तक 33 लाख 83 हजार 154 हितग्राहियों का पंजीयन कर 1501 करोड़ 15 लाख रूपये की मातृत्व सहायता राशि वितरित की गई है। मध्यप्रदेश, देश में प्रधानमंत्री मातृ-वंदना योजना के क्रियान्वयन में विगत पाँच वर्ष से निरंतर प्रथम स्थान पर बना हुआ है।

उल्लेखनीय है कि केन्द्र सरकार द्वारा एक जनवरी 2017 से प्रदेश के सभी जिलों में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम-2013 में लागू की गई प्रधानमंत्री मातृ-वंदना योजना में गर्भवती महिलाओं एवं धात्री माताओं को मजदूरी की हानि की आंशिक क्षतिपूर्ति और स्वास्थ्य संबंधी व्यवहारों में सुधार लाने के लिये पात्र हितग्राहियों को प्रथम गर्भावस्था में 5 हजार रूपये 3 किश्त में प्रदान करने का प्रावधान था। योजना के सफल क्रियान्वयन के बाद प्रावधानों में परिवर्तन किया गया। पीएमएमवीवाई-2.0 का क्रियान्वयन एक अप्रैल 2022 से सम्पूर्ण भारत में लागू किया गया है। योजना में द्वितीय प्रसव पर बालिका जन्म को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से लाभ देने का प्रावधान किया गया। इसमें प्रथम प्रसव पर 5 हजार रूपये एवं द्वितीय प्रसव पर बालिका का जन्म होने पर 6 हजार रूपये का लाभ एक किश्त में दिया जा रहा है।